उत्तराखंड की इन सड़कों से गुज़ारना ऐसा है जैसे अपनी मौत दावत देना, क्योकि यहाँ आसमान से बरसते है पत्थर

0
220

उत्तराखंड की इन सड़कों पर हर वक़्त मौत मंडराती रहती है आखिर क्या राज़ है वो की यहाँ की सड़कों पर आसमान से बरसते है पत्थर पढ़िए आगे.

इन डेंजर जोन पर भूस्खलन के चलते वाहनों की आवाजाही बार-बार ब‌ाधित हो रही है। बदरीनाथ हाईवे पर लामबगड़ और हाथी पहाड़ के बाद बाजपुर तीसरा खतरनाक जोन बन गया है। यहां एक जुलाई को गदेरे में भारी उफान आने से करीब 120 मीटर सड़क बह गई थी।

देवभूमि कहे जाने वाले उत्तराखंड में बारिश होते ही पहाड़ के राजमार्गों पर मौत को दावत देते खतरनाक डेंजर जोन बन चुके हैं। हाईवे खोलने में लिए बीआरओ और लोनिवि भारी मशीनों और मजदूरों के साथ लगा हुआ है।

बीआरओ की 123, 66 और 75 आरसीसी यूनिटों के तेरह अधिकारी, 17 जूनियर इंजीनियर और एक सौ से ज्यादा मजदूर दिन और रात हाईवे को सुचारु करने में लगे हुए हैं। फिलहाल मलबा और बोल्डरों के ऊपर से ही वाहनों की आवाजाही कराई जाएगी।

एक जुलाई को बदरीनाथ हाईवे अवरुद्ध होने के बाद से करीब दो सौ यात्रा बसें बीच में ही फंसी हुई हैं।
अब सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) यहां फिलहाल बोल्डरों और मलबे के ऊपर ही सड़क तैयार करने में जुटा है।

loading...