रैफरी ने खराब बताया पुणे की पिच को, BCCI से जवाब मांगा गया

0
534

दुबई: भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच के लिए उपयोग में लाई गई पिच को मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड ने ‘खराब’ दर्जे का बताया है. इंटरनलेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने मंगलवार को इसकी घोषणा की. भारत वह मैच 333 रनों से हार गया था. यह मैच पूरे तीन दिन भी नहीं चल सका था. इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई स्पिन गेंदबाज स्टीव ओकीफ ने 12 विकेट लिए थे. गौरतलब है कि भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के टेस्‍ट के जरिये पुणे ने पहली बार किसी टेस्‍ट की मेजबानी की है.

आईसीसी ने अपने बयान में कहा, ‘मैच रेफरी ब्रॉड ने आईसीसी पिच एंड आउटफील्ड मॉनिटरिंग प्रॉसेस के क्लाउज 3 के तहत अपनी रिपोर्ट दायर कर दी है. इस रिपोर्ट में पिच को खराब दर्जे का बताया गया है. रिपोर्ट भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को भेज दी गई है और अब भारतीय बोर्ड को 14 दिनों के भीतर इसका जवाब देना है.” बीसीसीआई के जवाब पर आईसीसी के महाप्रबंधक ज्यौफ एलेर्डाइस और एमिरेट्स इलीट पैनल ऑफ आईसीसी मैच रेफरीज के प्रतिनिधिक रंजन मदुगले विचार करेंगे.

गौरतलब है कि पुणे टेस्‍ट की पिच बल्‍लेबाजों के लिए मुश्किलभरी साबित हुई और तीन दिन में 40 विकेट गिरे. मैच के पहले दिन 9, दूसरे दिन 15 और तीसरे दिन 16 विकेट गिरे. इस मैच में पहली पारी में टीम इंडिया 105 और दूसरी पारी में 107 रन बनाकर आउट हो गई थी. दूसरी ओर, विपक्षी ऑस्‍ट्रेलियाई टीम का बल्‍लेबाजी प्रदर्शन भारत की तुलना में बेहतर रहा था. कंगारू टीम ने पहली पारी में 260 और दूसरी पारी में 285 रन बनाए थे. बल्‍लेबाजी के लिए मुश्किल माने जा रहे इस विकेट पर ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ ने दूसरी पारी में शतक बनाया था.

loading...